व्यापार

सुधारों के बीच 34 अंक टूटकर सेंसेक्सर बंद, निफ्टी 8,224 पर

बाजार, देखी गयी [ 1210 ] , रेटिंग :
Nitika, Star Live 24
Thursday, May 14, 2015
पर प्रकाशित: 17:24:26 PM
टिप्पणी
सुधारों के बीच 34 अंक टूटकर सेंसेक्सर बंद, निफ्टी 8,224 पर

मुंबई।। बंबई स्टॉयक एक्सकचेंज का सेंसेक्स  अंतिम समय में वापसी करते हुए 45.04 अंक घटकर 27,206.06 अंक पर बंद हुआ. इसी प्रकार नेशनल स्टॉा‍क एक्सचचेंजा का निफ्टी 11.25 अंक घटकर 8,224.20 अंक पर बंद हुआ. बंबई स्टॉसक एक्सेचेंज का सेंसेक्से शुरुआती कारोबार में 175 से ज्यारदा अंक गिर गया. अभी सेंसेक्स2 27,076 पर कारोबार कर रहा है. इसी प्रकार नेशनल स्टॉ क एक्सरचेंज का निफ्टी भी शुरुआती कारोबार में 60 अंक टूट गया. मिडकैप के शेयरों में बिकवाली का दबाव है. स्मॉटलकैप के शेयर भी 8 अंक के नुकसान के साथ कारोबार कर रहा है.

कल बुधवार को सुधारों की उम्मीपद से सेंसेक्‍स 373 अंक चढ गया था. बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स बुधवार को 373.62 अंक चढकर 27,000 अंक के स्तर के पार 27,251.10 अंक पर बंद हुआ. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 8,200 अंक के स्तर के पार निकल गया. अप्रैल माह में खुदरा मुद्रास्फीति घटकर चार माह के निचले स्तर पर आ गई जबकि औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर सुस्त रही है.

इससे रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में कटौती की संभावना बढी है. इसके अलावा कुछ शेयरों को एमएससीआइ इंडिया सूचकांक में शामिल किये जाने से भी बाजार में तेजी को समर्थन मिला. एमएससीआइ ने घोषणा की है कि भारती इन्फ्राटेल, आयशर मोटर्स, ल्यूपिन व भारत फोर्ज सहित आठ कंपनियों को सूची में शामिल किया जाएगा. अभी इन्फोसिस, एचडीएफसी, टीसीएस, रिलायंस इंडस्टरीज, सनफार्मा और आइटीसी एमएससीआइ का हिस्सा हैं.

अप्रैल माह में खुदरा मुद्रास्फीति घटकर 4.87 प्रतिशत पर आ गई है, जो इसका चार माह का सबसे निचला स्तर है. वहीं औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर मार्च में घटकर पांच माह के निचले स्तर 2.1 प्रतिशत पर आ गई. ऐसे में यह संभावना बनी है कि केंद्रीय बैंक अपनी अगली समीक्षा बैठक में ब्याज दरों में कटौती करेगा. उतार-चढाव भरे कारोबार में बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज मजबूती के साथ खुलने के बाद 27,000 अंक के महत्वपूर्ण स्तर पर पहुंच गया. कारोबार के दौरान इसने दिन का उच्चस्तर 27,299.80 अंक भी छुआ था. 

सौ.प्रभात खबर


अन्य वीडियो






 टिप्पणी Note: By posting your comments in our website means you agree to the terms and conditions of www.StarLive24.tv


इस सेक्‍शन से अन्‍य ख़बरें


< >

1/4

अधिकतम देखे गए