जीवन शैली

नए साल में ऐसे कमा सकते हैं पैसा, बना सकते हैं सेहत और पा सकते हैं नौकरी

कला संस्कृति, देखी गयी [ 959 ] , रेटिंग :
Vijay Kumar, Star Live 24
Wednesday, January 1, 2014
पर प्रकाशित: 11:12:01 AM
टिप्पणी
नए साल में ऐसे कमा सकते हैं पैसा, बना सकते हैं सेहत और पा सकते हैं नौकरी

नईदिल्ली।। यह नया साल उम्‍मीदों से भरा है। मजबूत इरादों और थोड़ी सी प्‍लानिंग केसाथ चलें तो यह साल आपके लिए सुख, शांति और समृद्धि से भरा रह सकता है।

नौकरी के भरपूर अवसर

उद्योगमंडल एसोचैम का अनुमान है कि वर्ष 2014 में देश में सूचना प्रौद्योगिकी,बैंकिंगतथा कृषि आधारित उद्योगों में नौकरियां के सबसे अधिक अवसर होंगे। एसोचैम की एकअध्ययन रिपोर्ट में उम्मीद जताई गई है कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था में सुधार और रुपएकी नरमी से आईटी एवं आईटी सेवा निर्यातकों के लिए नया साल बेहतर होगा। इसी तरहबेहतर रबी फसल की संभावना से कृषि पर आधारित ट्रैक्टर,खाद-बीजऔर कृषि औजार जैसे उद्योगों में मांग और रोजगार को समर्थन देगी।

रिपोर्टके अनुसार आर्थिक वृद्धि सुधरने से बैंकों के अवरुद्ध ऋणों की समस्या कम होगी तथासरकारी बैंकों में खाली पदों की भर्ती अर्थव्यवस्था में इस समय जो स्थिति है,उसमेंज्यादातर क्षेत्रों में कुल मिलाकर रोजगार के अवसर घट रहे हैं और उनमें बड़ेपैमाने पर रोजगार सृजन की संभावना नजर नहीं आती, पर ऐसी परिस्थितियों में भी ये क्षेत्ररोजगार सृजन के मामले में अलग दिखेंगे। एसोचैम के अध्यक्ष राणा कपूर ने कहा किग्रामीण भारत में बड़ी संख्या में लोग कृषि और सेवा क्षेत्र पर निर्भर करते हैं औरइस क्षेत्र में कुछ ऐसे परंपरागत क्षेत्र हैं, जो औद्योगिक क्षेत्र की हालत ठीक नहोने पर कुल मिलाकर अर्थव्यवस्था को संभालने के काम आ सकते हैं। कृषि क्षेत्र में2013 में मजबूत वृद्धि दिखी और यह 2014 में भी जारी रह सकती है,क्योंकिरबी फसल की संभावना अच्छी है। यह ट्रैक्टर और फार्म व सिंचाई उपकरण,बीजऔर उर्वरक कंपनियों के लिए अनुकूल है, जो कृषि क्षेत्र से जुड़ी हैं।

नएसाल में रोजमर्रा के उपभोक्ता सामान व मोटरसाइकिल बाजार में भी रोजगार बढऩे कीउम्मीद है। एसोचैम ने कहा है कि बैंकिंग क्षेत्र के लिए 2013 बड़ा चुनौतीपूर्ण रहाऔर अवरुद्ध ऋणों का आकार बढ़ता गया, पर 2014 में अर्थव्यवस्था में सुधार केसाथ अवरुद्ध ऋणों की समस्या कम होने की उम्मीद है।

अमेरिकी अर्थव्यवस्था में सुधार का दिखेगा असर

एसोचैमने कहा कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था में सुधार की मदद से भारत के सूचना प्रौद्योगिकीक्षेत्र में 2014 में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। अमेरिकी अर्थव्यवस्था में सुधार केलक्षण दिख रहे हैं और इसीलिए अमेरिकी फेडरल रिजर्व ने 85 अरब डॉलर के मासिक बांड खरीदकार्यक्रम में कमी का निर्णय किया है। भारत का आईटी क्षेत्र सालाना 75 अरब डॉलर केउत्पाद एवं सेवाओं का निर्यात कर रहा है और इसमें से 60 प्रतिशत निर्यात अमेरिकीबाजार पर निर्भर है। इसके अलावा डॉलर के मुकाबले रुपए की विनिमय दर में गिरावट सेभी आईटी निर्यातकों को लाभ मिल सकता है। ऐसे में बड़ी आईटी फर्में 2014 में कैंपससे भर्तियां करने में सक्रिय रहेंगी।

नौकरियों की बहार से आप कैसे उठा सकते हैं फायदा

एकहालिया शोध के मुताबिक 2013 में ग्रेजुएट हुए छात्रों में से करीब 50 फीसदी हीनौकरी पर रखे जाने लायक थे। एसपायरिंग माइंड एजेंसी की ओर से जारी की गई रिपोर्टके मुताबिक 47 फीसदी ग्रेजुएट्स जरूरी स्किल से लैस नहीं थे। इसलिए 2014 में नौकरीपाने के लिए आपको चरणबद्ध तरीके से काम करना होगा।

इंडस्ट्री के हिसाब से खुद को तैयार करें

दुनियाभरमें पढ़ें-लिखे बेरोजगारों की संख्या बढ़ रही है। एसपायरिंग माइंड एजेंसी कीरिपोर्ट में कहा गया है कि 2013 में ग्रजेुएट होने के बावजूद बड़ी संख्या मेंछात्रों का नौकरी न मिलने का अहम कारण खराब अंग्रेजी,कंप्यूटरऔर तकनीकी स्किल्स की कमी और सही ट्रेनिंग का न मिल पाना है। लिहाजा पहले खुद कोइंडस्ट्री की जरूरतों के हिसाब से तैयार करें।

 नौकरी खोजने के लिए बनाएं रणनीति

 कॉपीकैट न बनें। किसी भी नौकरी के लिए खुद कोपेश करते हुए किसी और की नकल न करें और अपनी अनुभव, प्राथमिकता और कॅरिअर गोल को दिमाग मेंरखते हुए फैसला लें।

 पहला प्रभाव खास होता है,ख्यालरखें - करीब 92 फीसदी नियोक्ता हायरिंग के लिए इन दिनों सोशल मीडिया का इस्तेमालकर रहे हैं। लिहाजा आप वहां भी कोई इस तरह की पोस्ट या फोटो न डालें जिससेनियोक्ता के सामने आपका खराब इंप्रेशन जाता हो। किसी भी काम को करने से पहले सोचेंकि इससे आपके व्यक्तित्व की कैसी तस्वीर पेश होगी।

 नौकरी हासिल करने के लिए हमेशा खुद को तैयाररखें। नौकरी की तलाश कर रहे आवेदक की एक गलती ही उसे दौड़ से बाहर कर देती हैलिहाजा खुद को अपडेट करते रहें। हर इंटरव्यू से पहले संस्थान के बारे में जानकारीजुटा लें। जॉब प्रोफाइल के बारे में भी पूरी तरह समझ लें और अपनी उम्मीदवारी कोमजबूत करने के लिए होमवर्क करके जाएं।

सोशलमीडिया के लिए भी रणनीति बनाएं- नौकरी की तलाश करने वाले लोगों के लिए सोशल मीडियाएक अहम प्लैटफॉर्म है। अपने बारे में जरूरी जानकारी सोशल मीडिया पर भी सर्कुलेटकरें। साथ ही स्ट्रेटेजिक तरीके से खुद को सोशल मीडिया पर प्रस्तुत करें। लिंक्डइन, टि्वटरऔर अन्य प्रोफेशनल सोशल साइट पर अपना एकाउंट जरूर बनाएं।

आर्थिक तौर पर मजबूती के लिए नए साल में क्‍या करें

आर्थिक सुरक्षा के लिए कुछ बातों का ध्‍यान रखना जरूरी है

फाइनेंशियल प्लान बनाए

आर्थिकरूप से सफल बनने के लिए यह एक अहम कदम है। आप कितना कमाते हैं इस बात से ज्‍यादामहत्वपूर्ण यह है कि आपका फाइनेंस मैनेजमेंट कितना प्रभावी है। प्रभावी फाइनेंसमैनेजमेंट के लिए जरूरी है कि आप अपनी जरूरतों को लिखित में लेकर एक पूरी योजनाबनाएं।

आपकितने रुपयों की बचत करना चाहते हैं और कितना निवेश करना चाहते हैं?इसकेलिए आपको अपनी जरूरतें चिह्न‍ित करनी होंगी। यानी आपको घर या कार खरीदने के लिए भीपैसा रखना है या बच्चों की पढ़ाई और रिटायरमेंट के लिए भी प्लान करना है। आपकोअपनी आदमनी को महंगाई को ध्यान में रखते हुए अलग-अलग मदों के लिए बांटना होगा। साथही यह भी तय करना होगा कि किसी भी काम को आप कितने दिनों में लक्ष्य तक पहुंचानाचाहते हैं यानी आप कितने साल में घर या कार खरीदने की योजना बना रहे हैं।

उच्च ब्याज दरों वाले लोन का शीघ्र भुगतान करें

उच्चब्‍याज दरों वाले लोन का भुगतान करने में ढिलाई न बरतें। पर्सनल लोन,क्रेडिटकार्ड का बकाया और कार लोन आदि के ब्याज का भुगतान एक योजना के हिसाब से करें।ध्यान रखिए क्रेडिट कार से आप कोई महंगी चीज आसानी से खरीद लेते हैं लेकिन यह फ्रीनहीं होती है।

कर्जसे बाहर आने के लिए आपको खास रणनीति बनाने की जरूरत है। आपको अपनी स्थिति के हिसाबसे अपना रास्ता चुनना होगा। यदि आप अपने ऋणों पर ध्यान नहीं दे रहे हैं तो यह आपकेफाइनेंस प्लान को भी डूबो सकता है। इसलिए यह जरूरी है कि आप अपनी देनदारी और अन्यचीजों के लिए एक आवश्यक प्लान बनाएं और रणनीति के हिसाब से इन्हें अदा करें।

 

बचत और निवेश करना शुरू करें

जैसेही आप अपने उच्च ब्याज दरों वाले लोन का भुगतान कर दें तो आपको बचत करनी शुरू करदेनी चाहिए। बचत करने के लिए आपको दो में एक काम तो करना ही होगा या तो आप अधिककमाना शुरू करें या कम खर्च करना। अपने खर्चों की ऑडिट के बाद आप यह देखेंगे किबचत का स्‍कोप निकलेगा।

जबआप बचत करना शुरू कर दें तो इसके बाद निवेश की बारी आती है। जब आप अपनाइंवेस्टमेंट ऑप्शन चुनें तो पहले अपने मौजूदा बचत बैलेंस और अपने फाइनेंशियललक्ष्य को देखें। इसके साथ ही मंहगाई और रिस्क उठाने की क्षमता को भी ध्यान मेंरखें।

खासकरऐसे इवेंस्टमेंट ऑप्शन से बचें जिसमें जल्दी धनी बनाने के दावे किए जाते हों।

नएसाल में सेहतमंद रहने का आसान फंडा

नए साल में फिट रहने के लिए कर सकते हैं इन चीजों की शुरुआत

पौष्टिकखान-पान मेंटेन करना उतना मुश्किल भी नहीं है। नए साल में आप इसे आजमा कर देख सकतेहैं। यहां छह ऐसी चीजों के बारे में बताया गया है जो घर में आसानी से मिलती हैं।इनमें कई पौष्टिक तत्व हैं। इनसे लगभग सभी शरीर की सभी जरूरतें पूरी होंगी।

 

सेब

येमैजिकल फ्रूट है। इसमें विटामिन-सी,

फोलेट,प्रोटीन,कैल्शियम,कार्बोहाइड्रेट्स,विटामिन-ए

जैसेमहत्वपूर्ण तत्व हैं।

 

संतरा

येविटामिन-सी से भरपूर है। इसमें बी

कॉम्प्लेक्स,विटामिन-ए,प्रोटीन,

कैल्शियम(थोड़ी मात्रा में) पाए जाते हैं।

 

पनीर

जोलोग मांस- मछली नहीं खाते

हैं,उनकेलिए दूध और पनीर बेहतरीन

विकल्पहैं। इसमें कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट्स,विटामिन-डी

जैसेतत्व हैं।

 

दालें

इनमेंप्रोटीन, पोटेशियम, मैग्नेशियम,

फायबर,कार्बोहाड्रेट्स,विटामिन-बी,

फोलेट,थायामिन,आयरन,ङ्क्षजक,

विटामिनए, फॉस्फोरस।

 

टमाटर

इसमेंविटामिन-ए,

विटामिन-सी (ज्यादा मात्रा में), बी

कॉम्प्लेक्स,प्रोटीन,आयरन,

कार्बोहाइड्रेट्स,मैग्नीशियमहै।

 

पांच भाजिया

(पालक,मैथी,बथुआ,सुआ,चौलई)

येसाधारण हरी सब्जियां नहीं,

लेकिनपत्तेदार हरी सब्जियां हैं। इनमें आठ-दस पौष्टिक

तत्वहोते हैं।


अन्य वीडियो






 टिप्पणी Note: By posting your comments in our website means you agree to the terms and conditions of www.StarLive24.tv


इस सेक्‍शन से अन्‍य ख़बरें

< >

1/4

अधिकतम देखे गए